Breaking News
Home / News / भारतीय सैनिकों ने भाग रहे आतंकियों का किया कुछ ऐसा हाल, जिसे जानकर आप भी करेंगे उनको सलाम

भारतीय सैनिकों ने भाग रहे आतंकियों का किया कुछ ऐसा हाल, जिसे जानकर आप भी करेंगे उनको सलाम

भारतीय सेना का कितना अधिक खौफ़ आतंकियों में है इसका ताजा उदाहरण कल यानी 13 सितम्बर को जम्मू-कश्मीर के उत्तरी कश्मीर में देखने को मिला. जहां सेना के जवानों की ललकार के बाद घुसपैठी कर रहे आतंकी इस तरह भाग रहें थे जैसे शेर को देखकर सियार. इस घटना का दृश्य यहीं बताने की कोशिश कर रहा था कि आज भी हमारे जवानों के आवाज़ में ऐसी गर्जना है जिसकी गर्जना से ही दुश्मन देशों का दिल बैठ जाता है. आपको बता दें कि हमारे देश के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आतंकियों के विरूद्ध भारतीय सैनिकों को ऑल आउट ऑपरेशन का जिम्मा दिया था. जिसे हमारी भारतीय सेना बखूबी निभा रहीं है.

आतंकी घुसपैठ को भारतीय जवानों ने किया नाकाम ( image source: aaj tak)

कुपवाड़ा सेक्टर में घुसपैठ करने की कोशिश कर रहे थे आतंकी

आपको बता दें कि कश्मीर के कुपवाड़ा सेक्टर कुछ हथियार बंद आतंकी भारतीय सीमा में घुसपैठ करने की कोशिश कर रहे थे. जिसे हमारे भारतीय सेना के जवानों ने नाकाम कर दिया. गौरतलब है कि कल सुबह केरन सेक्टर में कुछ हथियार बंद आतंकियों को भारतीय सेना के जवानों ने घुसपैठ करते देखा था. जिसके बाद उन्होंने अन्य भारतीय चौकियों को सूचित किया और उन घुसपैठियों पर नजर बनाए रखी. जो कि भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश कर रहे थे.

दो घंटे तक चली मुठभेड़ में भारतीय सेना को मिली फतह ( image source: zee news)

जवानों ने ललकारते हुए आत्मसमर्पण करने को कहा

वे आतंकी एलओसी पार कर भारतीय सीमा में घुस ही रहें थे कि भारतीय जवानों ने उन्हें ललकारते हुए आत्मसमर्पण करने को कहा. जवानों की ललकार सुनते ही वे घुसपैठिए वापस भागने की कोशिश करने लगे. जिसके बाद भारतीय जवान उनकी पीछा करने लगे, भारतीय जवानों को पीछा करने से रोकने के लिए उन आतंकियों ने भारतीय जवानों पर गोली चलाना शुरू कर दिया. जिसके बाद भारतीय जवानों ने उन पर जवाबी कर्रवाई करते उन्हें धूल चटा दिया. दो घंटे तक चली इस मुठभेड़ में भारतीय सेना को तीन आतंकियों को मार गिराया जबकि तीन आतंकी भागने में सफल रहें.

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ( image source: patrika)

 जैश-ए-मोहम्मद के कमांडर अली अतहतर भी हुआ ढेर

भारतीय सुरक्षाबलों ने कश्मीर के चीकीपोरा सोपोर में दो और पाकिस्तानी आतंकियों को मार गिराया है. इस मुठभेड़ में जैश ए मोहम्मद के कमांडर अली अतहतर भी ढ़ेर हो गए है. जिस पर जनवरी में सोपोर में हुई भीषण आईईडी विस्फोट की साजिश रची थी.

एक प्रेस कांफ्रेस के दौरान केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने बताया कि जनवरी 2017 से 14 दिसंबर तक कुल 337 आतंकी घटनाएं हुई थी, जिसमें से 203 आतंकियों को मार गिराया गया था. जबकि वहीं 91 आतंकियों को जिंदा घाटी से पकड़ा गया है. अगर हम पूर्व की सरकार के आंकड़ो पर गौर करे तो हम पाएंगे कि उन्होंने किस प्रकार भारतीय जवानों के हाथ बांध दिए थे और वे हथियार के साथ होने के बावजूद भी निहत्थे के समान थे. लेकिन जब केंद्र में मोदी जी की सरकार आई तो उन्होंने भारतीय जवानों को खुली छूट दे दी और उन्होंने आतंकी गतिविधियों को नियंत्रित करने के लिए सर्जिकल स्ट्राइक एवं ऑल आउट जैसे ऑपरेशन चलाए जिससे आतंकी गतिविधियों को काबू किया जा सके.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *