Breaking News
Home / Breaking / खुद अमित शाह ने बताया कौनसी पार्टी दे रही है बीजेपी को कड़ी टक्कर, विरोधी भी सोच में पड़ जायेंगे

खुद अमित शाह ने बताया कौनसी पार्टी दे रही है बीजेपी को कड़ी टक्कर, विरोधी भी सोच में पड़ जायेंगे

केंद्र में बीजेपी की सरकार आने के बाद से पीएम मोदी जी की लोकप्रियता इतनी बढ़ती गयी कि देश के अधिकतर राज्यों से विरोधी पार्टियों का सफाया कर अपनी प्रचंड जीत का परचम लहराया है. आज देश के अधिकतर राज्यों से विपक्षी दलों को सफाया हो चुका है. देश के लगभग 80 फीसदी क्षेत्र में बीजेपी और उसकी सहयोगी पार्टियों की सरकार है. जिसके चलते कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दल बौंखलाये हुए हैं. अब 2019 में लोकसभा चुनाव होने हैं. जिसके लिए सभी राजनैतिक पार्टियों ने कमर कस ली है.

Image Source-समाचार नामा

जानकारी के लिए बता दें आने वाले लोकसभा चुनावों के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी जी-तोड़ मेहनत कर रहे हैं, जिससे पार्टी की नाक बच जाए. मोदी सरकार को रोकने के लिए कांग्रेस सभी विपक्षी दलों को एक कर रही है और महागठबंधन बना रही है. वहीँ इस महागठबंधन में अभी से ही आंतरिक कलह सामने आने लग गया है. कांग्रेस पार्टी के ही कार्यकर्ता पार्टी छोड़कर बीजेपी का दामन थाम रहे हैं. इधर बीजेपी के चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह भी चुनावी रणनीति तैयार करने में लग गये हैं. मशहूर रणनीतिकार प्रशांत किशोर की भी बीजेपी में वापस आने की खबरें आ रही हैं. इस खबर ने विपक्षी दलों की नींद उड़ा दी है.

Image Source-openion power

अमित शाह का महागठबंधन को लेकर बड़ा बयान 

मोदी सरकार को रोकने के लिए एक हो रही विपक्षी पार्टियों को लेकर अमित शाह ने बड़ा बयान दिया है. अमित शाह बीजेपी की जीत को लेकर आश्वस्त हैं. उन्होंने महागठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा है कि भाजपा इस बार भी पीएम मोदी जी के नेतृत्व में शानदार प्रदर्शन करेगी. इसी के साथ उन्होंने कहा है कि बीजेपी धर्म को लेकर राजनीति नहीं करती है और करेगी. बीजेपी का एजेंडा देश का विकास है. एक अंग्रेजी अखबार को दिए गये इंटरव्यू में उन्होंने कहा है कि हम ऐसा कुछ भी नहीं करने वाले हैं जिससे राजनीतिक माहौल साम्प्रदायिक रंग ना ले.

Image Source-National Herald

गौरतलब है कि अमित शाह ने कहा है कि वह देश के एक एक राज्य में गये हैं. इस बार देशभर में पहले से ज्यादा बीजेपी की लहर है. शाह ने कहा है कि महागठबंधन क्या दूर-दूर तक कोई पार्टी बीजेपी को चुनौती के रूप में नहीं है. आज के समय में बीजेपी के समर्थकों की संख्या 11 करोड़ तक पहुंच गयी है. विरोधी पार्टियों पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा है कि ये पार्टियाँ गठबंधन की बात तो कर रही हैं लेकिन इन्हें राज्यों में मतदाताओं ने निकार दिया है. जिससे महागठबंधन के कोई मायने नहीं हैं. देश की मीडिया पर भी निशाना साधते हुए शाह ने कहा है कि मीडिया भगवा को ज्यादा तूल दे रहा है, जबकि किसी भी घटना में हमारे नेता शामिल नहीं हैं. मीडिया को ऐसी बातों को तूल नहीं देना चाहिए. अगर ऐसा हो जाए तो कोई धुर्वीकरण नहीं होगा.

News Source-Punjabkesri

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *