Breaking News
Home / Breaking / एनआरसी पर बवाल के बीच उत्तराखंड सीएम ने घुसपैठियों को लेकर किया बड़ा ऐलान, ममता को पड़ जायेगा दिल का दौरा

एनआरसी पर बवाल के बीच उत्तराखंड सीएम ने घुसपैठियों को लेकर किया बड़ा ऐलान, ममता को पड़ जायेगा दिल का दौरा

असम में 40 लाख लोगों की सिटिजनशिप खत्म करने के बाद एनआरसी को लेकर पूरे देश में बवाल मच चुका है. मोदी सरकार के इस कदम के बाद से विपक्षी दल तिलमिला उठे हैं. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में एनआरसी को लागू करने के चलते चेतावनी देते हुए विवादित बयान दिया था. ममता बनर्जी ने कहा था कि अगर एनआरसी को पश्चिम बंगाल में भी लागू किया तो गृह युद्ध जैसे आयाम हो जायेंगे और खून खराबा हो जायेगा.

Image Source-NDTV khabar

जानकारी के लिए बता दें ममता बनर्जी के मुख्यमंत्री होने के चलते ऐसा बयान देने पर उनकी जमकर आलोचना हो रही है. लोग जमकर उन्हें खरी-खोटी सुना रहे हैं. इतना ही नहीं असम कांग्रेस के अध्यक्ष रिपुन बोरा ने उनके इस बयान को शर्मनाक बताते हुए निंदा की थी. इसी के साथ असम टीएमसी अध्यक्ष ने अपना पद छोड़ते हुए इस्तीफा दे दिया है. दरअसल ममता बनर्जी एनआरसी का विरोध इस लिए कर रही हैं कि पश्चिम बंगाल में एक बड़ी तादाद में बांग्लादेश, पाकिस्तान और म्यांमार से रोहिंग्या मुस्लिम समेत बहुत घुसपैठिये घुसे हुए हैं जोकि ममता बनर्जी को वोट बैंक का काम करते हैं. ऐसा बताया जाता है कि बंगाल में बड़ी आसानी से इन्हें भारत की नागरिकता मिल जाती है.

Image Source-सत्याग्रह

केंद्र सरकार भारत में घुसे अन्य देशों के लोगों को निकालने का काम कर रही है. इधर विपक्ष उसका विरोध कर रहा है. ममता बनर्जी पर हो रही लगातार प्रतिक्रियाओं और एनआरसी के मुद्दे के के बीच उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ऐसा बयान दिया है कि जानकर ममता बनर्जी को बड़ा झटका लग सकता है. जी हाँ उन्होंने कहा है कि उत्तराखंड से भी बांग्लादेशी घुसपैठियों को बाहर किया जायेगा. उन्होंने आगे बताया है कि देहरादून में एक समुदाय या सम्प्रदाय विशेष की जनसँख्या बहुत तेजी से बढ़ रही है. उन्होंने आशंका जताते हुए कहा है कि ये बांग्लादेश के घुसपैठिये हैं.

Image Source-Hindustan times

गौरतलब है कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा है कि सरकार इस मामले पर गंभीर रूप से काम कर रही है. भारत में अवैध रूप से रह रहे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के बाद उन्हें देश से बाहर निकालने के काम किया जा रहा है. त्रिवेंद्र सिंह रावत का यह बयान ऐसे समय में दिया गया है, जब उत्तराखंड में निकाय चुनाव निकट हैं. उन्होंने कहा है कि इसी साल सितंबर के महीने में चुनाव कराने की तैयारी चल रही है.

News Source-ZeeNews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *